fbpx
February 1, 2023

PM मोदी आज लॉन्च करेंगे E-RUPI, E-RUPI से आप ऐसे कर सकेंगे लेन-देन

PM Modi: खाद, सब्सिडी की योजनाओं में भी ई-रुपी का इस्तेमाल हो सकता है। प्राइवेट कंपनियां भी इसका इस्तेमाल कर अपने कर्मचारियों को सैलरी दे सकती हैं और इसके जरिए उनकी पीएफ और ईएसआई की किस्त भी जमा कराई जा सकेगी।

 846 Total Likes and Views

Like, Share and Subscribe

pm modi to launch e-rupi digital payments platform today

PM मोदी आज देश को देंगे डिजिटल पेमेंट का नया प्लेटफॉर्म, जानें E-RUPI क्या है ये और कैसे करेगा काम

पीएम नरेंद्र मोदी आज देश को डिजिटल पेमेंट का नया प्लेटफॉर्म ई-रुपी E-RUPI देने जा रहे हैं। इससे आपको डिजिटल तौर पर पेमेंट के लिए बहुत सुविधा मिल जाएगी। पीएम मोदी शाम साढ़े चार बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ई-रुपी को लॉन्च करेंगे। ये कैशलेस और संपर्क के बिना पेमेंट करने का माध्यम है। यानी यह व्यक्ति और खास काम के लिए डिजिटल पेमेंट का तरीका आपको देने जा रहा है। इस पेमेंट प्लेटफॉर्म पर न तो डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड की जरूरत होगी और न ही इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करना होगा। यह गेटवे पूरी तरह क्यूआर कोड पर चलेगा।

दरअसल, ई-रुपी एक ई-वाउचर है। जिसे आप किसी के मोबाइल पर भेज सकते हैं। यह वन टाइम है। यानी एक बार के लिए ही इस्तेमाल किया जा सकेगा। जबकि, इंटरनेट बैंकिंग से आप किसी बेनेफिशियरी को जोड़कर उसे बार-बार रकम भेज सकते हैं। ई-रुपी E-RUPI में आपको हर बार बेनिफिशियरी का मोबाइल नंबर देना होगा। इससे किसी तरह के साइबर क्राइम से भी बचा जा सकेगा। लेन-देन में किसी एप का भी इस्तेमाल नहीं होगा।

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने इसे वित्तीय सेवा विभाग, स्वास्थ्य मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के साथ विकसित किया है। ई-रुपी E-RUPI के जरिए आप निश्चिंत रह सकते हैं, क्योंकि इससे लेन-देन पूरा हे के बाद ही जिसे आप पेमेंट कर रहे हैं, उसे पेमेंट पहुंचती है। प्री-पेड होने की वजह से पहले से ही आप अपने वॉलेट में मनचाही रकम रखकर लेन-देन कर सकते हैं।

इसके जरिए टीबी उन्मूलन कार्यक्रम, आयुष्मान भारत, पीएम जन आरोग्य योजना और शिशु कल्याण की योजना के तहत दवाइयां भी खरीदी जा सकती हैं। इसके अलावा खाद, सब्सिडी की योजनाओं में भी ई-रुपी E-RUPI का इस्तेमाल हो सकता है। प्राइवेट कंपनियां भी इसका इस्तेमाल कर अपने कर्मचारियों को सैलरी दे सकती हैं और इसके जरिए उनकी पीएफ और ईएसआई की किस्त भी जमा कराई जा सकेगी।

E-RUPI क्या है?

e-RUPI के बारे में कहा गया है ये डिजिटल पेमेंट के लिए कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस प्लेटफॉर्म है. ये QR कोड या SMS स्ट्रिंग के आधार पर ई-वाउचर के रूप में काम करता है. इसे लाभार्थियों के मोबाइल फोन पर पहुंचाया जाता है.

यूजर्स बिना किसी कार्ड, डिजिटल पेमेंट ऐप या इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस के भी वाउचर को रिडीम कर सकते हैं. इसको लेकर प्रधानमंत्री की ओर से ट्वीट भी कल यानी 1 अगस्त किया गया है. 

ट्वीट में कहा गया है डिजिटल टेक्नोलॉजी जीवन को बड़े पैमाने पर बदल रही है और ईज ऑफ लाइफ को बढ़ा रही है. 2 अगस्त शाम 4:30 बजे e-RUPI लॉन्च किया जाएगा. ये फ्यूचरिस्टिक डिजिटल पेमेंट सॉल्यूशन है जो अपने यूजर्स को कई लाभ देगा. 

इसको लेकर एक ऑफिशियल प्रेस रिलीज जारी किया गया है. इसमें कहा गया है आने वाला e-RUPI डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म सर्विस के स्पॉन्सर को बेनिफिशियरी और सर्विस प्रोवाइडर्स के साथ बिना किसी फिजिकल इंटरफेस के डिजिटल मैनर में जोड़ता है. 

इस प्लेटफॉर्म पर सर्विस प्रोवाइडर्स को तभी पेमेंट किया जाता है जब ट्रांजैक्शन पूरा हो जाए. ऑफिशियल प्रेस रिलीज में बताया गया है कि बिना किसी बिचौलिए के सर्विस प्रोवाइडर्स को टाइम पर पेमेंट मिल जाएगा. 

इसका उपयोग आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, उर्वरक सब्सिडी आदि जैसी योजनाओं में भी सेवा देने के लिए किया जाएगा. इसका यूज सरकारी ही नहीं प्राइवेट सेक्टर भी अपने कर्मचारी को वेलफेयर प्रोग्राम के तहत सर्विस देने के लिए कर सकते हैं.

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें
Facebook (https://www.facebook.com/nationalwmedia) और Twitter (https://twitter.com/nationalwmedia)

 847 Total Likes and Views

Like, Share and Subscribe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *